Lok Sabha kya hoti hai और इसकी शक्तियां व कार्य क्या हैं?

14576

Lok Sabha kya hoti hai और इसकी शक्तियां व कार्य क्या हैं?

Lok Sabha kya hoti hai दोस्तों क्या आप जानना चाहते हैं कि लोकसभा क्या होती है और यह कैसे काम करती है तथा लोकसभा के सदस्यों का चुनाव कैसे होता है और लोकसभा का कार्यकाल कितने वर्ष का होता है अगर आप इन सब के बारे में जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को शुरू से लेकर लास्ट तक जरूर पड़े क्योंकि हम हमारे इस आर्टिकल में आपको बताएंगे कि लोकसभा क्या होती है और लोकसभा का कार्यकाल कितने वर्ष का होता है और लोकसभा का चुनाव कैसे होता है

Lok Sabha kya hoti hai लोकसभा क्या होती है

भारतीय सदन के निचले सदन को हम लोकसभा कहते हैं और ऊपरी सदन को हम राज सभा कहते हैं लोकसभा सदस्य जनता के द्वारा चुने हुए सांसद ही लोकसभा के सदस्य होते हैं और इनकी संख्या 542 होती है और जिसमें से 530 सदस्य अलग-अलग राज्यों से होते हैं जबकि 20 सदस्य भारत के केंद्र शासित प्रदेशों से होते हैं जो अपने राज्य का प्रतिनिधित्व करते हैं अगर सदस्यों की संख्या 552 होती है तो ऐसे में राष्ट्रपति के द्वारा आंग्ल भारतीय समुदाय का प्रतिनिधित्व करते हैं

लोक सभा की सीटें निम्नानुसार 29 राज्यों और 7 केन्द्र शासित प्रदेशों के बीच विभाजित है

उपविभाजन प्रकार निर्वाचन क्षेत्रों की संख्या
अण्डमान और निकोबार द्वीपसमूह केन्द्र शासित प्रदेश 1
आन्ध्र प्रदेश राज्य 25
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली केन्द्र शासित प्रदेश 7
अरुणाचल प्रदेश राज्य 2
असम राज्य 14
बिहार राज्य 40
चंडीगढ़ केन्द्र शासित प्रदेश 1
छत्तीसगढ़ राज्य 11
दादरा और नगर हवेली केन्द्र शासित प्रदेश 1
दमन और दीव केन्द्र शासित प्रदेश 1
गोवा राज्य 1
गुजरात राज्य 26
हरियाणा राज्य 10
हिमाचल प्रदेश राज्य 4
जम्मू और कश्मीर Kendra sashit pradesh 6
झारखंड राज्य 14
कर्नाटक राज्य 28
केरल राज्य 20
लक्षद्वीप केन्द्र शासित प्रदेश 1
मध्य प्रदेश राज्य 29
महाराष्ट्र राज्य 48
मणिपुर राज्य 2
मेघालय राज्य
नागालैंड राज्य 1
उड़ीसा राज्य 21
पुदुच्चेरी केन्द्र शासित प्रदेश 1
पंजाब राज्य 13
राजस्थान राज्य 25
सिक्किम राज्य 1
तमिल नाडु राज्य 39
त्रिपुरा राज्य 2
उत्तराखंड राज्य 5
उत्तर प्रदेश राज्य 80
पश्चिम बंगाल राज्य 42
तेलंगाना राज्य 17

आंग्ल-भारतीय- 2 [अगर राष्ट्रपति मनोनीत करे (संविधान के अनुच्छेद 331 के तहत)]

इतिहास 

प्रथम लोकसभा चुनाव सन 1952 में हुआ था इस चुनाव में कांग्रेस को 364  सीटों के साथ जीत हासिल की थी और भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू बने थे और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस को उस समय लगभग 45% के आसपास बोट मिली थी

 राज्यों के अनुसार सीटों की संख्या

दोस्तों राज्यसभा सदस्यों की सीटों की बात की जाए तो यह  जनसंख्या के आधार पर मिलते हैं और 1971 की जनसंख्या के आधार पर सीटों का निर्धारण किया गया था अब 2026 में फिर से जनसंख्या के आधार पर सीधा सीटों का निर्धारण किया जाएगा वर्तमान समय में सीटों की बात की जाए तो उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा जनसख्या हैं जबकि दक्षिण भारत के 4 राज्य कर्नाटक आंध्र प्रदेश तमिलनाडु और केरल इन राज्यों की जनसंख्या की बात की जाए तो इनकी जनसंख्या पूरे देश की 21% जनसंख्या है और यहां पर 119 लोकसभा की सीटें हैं सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला राज्य उत्तर प्रदेश और बिहार है इन दो राज्यों में 25 परसेंट जनसंख्या देश की रहती है और इन दोनों में 120 सीटें दी गई हैं

 लोकसभा का कार्यकाल

लोकसभा का कार्यकाल दोस्तों लोकसभा के कार्यकाल की बात की जाए तो लोकसभा का कार्यकाल 5 साल का होता है और इसे 5 साल से पहले भी भंग किया जा सकता है अगर देश में इमरजेंसी की स्थिति पैदा होती है तो लोकसभा का कार्यकाल 1 वर्ष के लिए बढ़ा दिया जाता है आपातकाल की स्थिति समाप्त हो जाती है तो 6 महीने से अधिक के लिए यह कार्यकाल नहीं बढ़ाया जा सकता

लोकसभा के सत्र

दोस्तों भारत के संविधान अनुच्छेद 85 के अनुसार संसद के दो सत्रों होते हैं जो हर छह माह में आते हैं लेकिन परंपरा अनुसार संसद को नियमित तीन सत्रों में विभाजित किया गया है

1. बजट सत्र 

पहले नंबर पर आता है बजट सत्र और यह देश का पहला सत्र होता है समानता यह फरवरी और मई के मध्य चलता है और यह सबसे लंबा और काफी महत्वपूर्ण माने जाने वाला सत्र होता है इसी सत्र में बजट पेश किया जाता है और इस सत्र का प्रारंभ राष्ट्रपति के अभिभाषण के साथ किया जाता है

2 मानसून सत्र

मानसून सत्र जुलाई अगस्त के मध्य होता है

3. शरद सत्र

तीसरे सत्र की बात की जाए तो यह शरद सत्र होता है और यह नवंबर और दिसंबर के बीच आता है और इस सत्र की बात की जाए तो इसका समय सबसे कम अवधि का होता है

 लोकसभा के सदस्यों का चुनाव

लोकसभा के सदस्यों का चुनाव जनता के द्वारा ही किया जाता है और जो भी सांसद होते हैं वाह लोकसभा के सदस्य होते हैं सांसद का चुनाव हर 5 साल में होता है जनता के द्वारा चुने हुए प्रतिनिधि ही सांसद में जाकर प्रतिनिधित्व करते हैं

संसद मे लाये जाने वाले प्रस्ताव

अविश्वास प्रस्ताव

अविश्वास प्रस्ताव दोस्तों अविश्वास प्रस्ताव की बात की जाए तो इसमें नियमों का प्रस्ताव का वर्णन होता है और यह प्रस्ताव विपक्ष के द्वारा लोकसभा में मंत्रिमंडल जो भी होता है उसके विरोध लाया जाता है इस प्रस्ताव को लाने के लिए आपको लोकसभा के कम से कम 50 सदस्यों का समर्थन जरूरी होता है इस प्रस्ताव में सरकार के विरुद्ध लगाए जाने वाले आरोपों का वर्णन नहीं किया जाता है यह प्रस्ताव लाने का केवल सदन के  मंत्रिमंडल में विश्वास नहीं करता है प्रस्ताव इसके लिए लाया जाता है

 विश्वास प्रस्ताव

विश्वास प्रस्ताव दोस्तों इस प्रस्ताव का वर्णन आपको संविधान में कहीं पर भी देखने को नहीं मिलेगा और यह मंत्रिमंडल के द्वारा लाया जाता है और यह आवश्यकतानुसार कभी भी उत्पन्न हो सकता है इस प्रस्ताव में मंत्रिपरिषद अपनी सत्ता को सिद्ध करता है अगर यह प्रस्ताव गिर जाता है तो सरकार को त्याग पत्र देना पड़ता है

 निन्दा प्रस्ताव

निन्दा प्रस्ताव इस प्रस्ताव को लाने का मतलब इसके नाम के अनुसार ही होता है कि सरकार की नीतियों की निंदा की जाती है और इसे लाने के लिए सांसद को किसी भी प्रकार की पूर्व अनुमति की जरूरत नहीं होती है

 काम रोको प्रस्ताव

काम रोको प्रस्ताव दोस्तों यह प्रस्ताव विपक्ष के द्वारा ही लाया जाता है जिससे सदन में कार्यवाही के दौरान मुद्दे को उठाया जाता है यह प्रस्ताव पारित होने पर सरकार को निंदा प्रस्ताव के समान इसका प्रभाव देखने को मिलता है

Lok Sabha kya hoti hai आर्टिकल से क्या सीखा 

हमने हमारे इस आर्टिकल Lok Sabha kya hoti hai में आपको बताया है कि लोकसभा क्या होती है और इसका कार्य क्या होता है तथा इसकी स्थापना कैसे होती है अगर आपको हमारे द्वारा लिखा हुआ आर्टिकल अच्छा लगता है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर

Previous articleलोक सभा और राज्य सभा में अंतर दोनों सदनों की शक्तियों 
Next articlevidhan sabha kya hoti hai भारत में राज्यसभा और विधान सभा के बीच अंतर और उनकी तुलना
manoj meena
हेलो दोस्तों मेरा नाम मनोज मीना है मैं बीए फाइनल ईयर का छात्र हूं मुझे बायोग्राफी लिखना काफी पसंद है क्योंकि हिंदी में ज्यादातर जानकारी किसी के बारे में भी उपलब्ध नहीं होती इसीलिए मैं ज्यादातर जानकारी इकट्ठी कर कर पॉपुलर पर्सन के बारे में बायोग्राफी लिखता हूं आप मुझे इंस्टाग्राम और फेसबुक पर फॉलो भी कर सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here