central and state government kya hoti hai फुल जानकारी हिंदी में

15492

central and state government kya hoti hai / केंद्र सरकार और राज्य सरकार क्या होती है

central and state government kya hoti hai दोस्तों क्या आप जानना चाहते हैं कि केंद्र और राज्य सरकार में क्या अंतर होता है और केंद्र सरकार का क्या काम होता है और राज्य सरकार का क्या काम होता है वह केंद्र सरकार का गठन कैसे होता है और राज्य सरकार का गठन कैसे होता है अगर आप इन सब के बारे में जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल में लास्ट तक बने रहें क्योंकि हम आज आपको इस आर्टिकल में इन सब के बारे में विस्तार से

 केंद्र सरकार क्या होती है What is Central Government?

केंद्र सरकार की बात की जाए तो केंद्र में सरकार होती है उसे हम केंद्र सरकार कहते हैं और देश के सभी राज्यों के ऊपर होती है यानी कि इस सरकार के आधीन सभी राज्यों की सरकार आती हैं जैसे कि भारत में  29 राज्य और 8  केंद्रशासित प्रदेश हैं इन सभी प्रदेशों के लिए एक सरकार बनाई गई है जिसे हम केंद्र सरकार कहते हैं और केंद्र सरकार में प्रधानमंत्री राष्ट्रपति तथा इनका एक मंत्रिमंडल होता है जो पूरे देश में विकास कार्य को देखती है तथा किसी राज्य में विवाद को सुलझाने में भी इस सरकार का अहम योगदान रहता है तथा देश की विदेश नीति में भी केंद्र सरकार का योगदान रहता है देश की ग्रोथ वगैरा सब कुछ केंद्र सरकार करती है

राज्य सरकार क्या होती है What is State Government

राज्य सरकार की बात की जाए तो हर राज्य की अपनी एक सरकार होती है जिसमें केंद्र सरकार के तरहा मंत्री पद दिया जाता है जैसे केंद्र में प्रधानमंत्री प्रमुख होता है वैसे राज्य में मुख्यमंत्री प्रमुख होता है भारत में 29 राज्य और 8 केंद्र शासित प्रदेश हैं और इन 29 राज्यों में अपने अपने मुख्यमंत्री हैं और राज्य व केंद्र सरकार का कार्य अलग होता है राज्य सरकार का प्रमुख काम अपने राज्य के विकास में योगदान देना और अपने राज्य में कानून व्यवस्था को बनाए रखना और संविधान को सही ढंग से राज्य में लागू करना होता है राज्य की विधायिका अलग होती है और केंद्र की अलग होती है जिसे राज्य की विधायिका को हम विधान सभा कहते हैं हो केंद्र की को हम लोकसभा कहते हैं

 केंद्र सरकार का चुनाव कैसे होता है

भारत एक लोकतांत्रिक देश है और पूरे भारत में एक साथ केंद्र सरकार का चुनाव होता है यानी कि केंद्र में हमारे द्वारा चुने हुए सांसद ही केंद्र के प्रतिनिधि होते हैं और इन सांसद का चुनाव सीधे जनता के द्वारा किया जाता है जो भी व्यक्ति 18 वर्ष का होता है वह अपने चहेते सांसद को वोट करता है और जिस भी पार्टी के पास 272 से ज्यादा सीटें होती हैं वाह केंद्र में जाकर सरकार बनाती है फिलहाल में भारतीय जनता पार्टी ने 2019 में 272 से ज्यादा सीटों पर बहुमत हासिल किया था और अभी भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी हैं

 राज्य सरकार का चुनाव 

राज्य सरकार का चुनाव एक राज्य में ही सीमित होता है यानी कि राज्य सरकारों को विधायक के द्वारा बनाया जाता है और हर पार्टी अपने लिए विधायक मैदान में उतारती है और यह चुनाव हर राज्य के अलग-अलग समय पर होते हैं यानी कि उदाहरण के तौर पर मध्य प्रदेश में 234 सीटें हैं और जो भी पार्टी 117 सीटों से ज्यादा लाएगी उसकी सरकार बनेगी और यह सब केवल राज्य के वोटर के द्वारा ही मतदान किया जाता है और यह चुनाव हर 5 वर्ष में होते हैं जिसके बाद मुख्यमंत्री बनता है

 राज्य सरकार और केंद्र सरकार में क्या अंतर होता है (Difference Between Central and State Government)

  1.  राज्य सरकार और केंद्र सरकार में अंतर की बात की जाए तो राज्य सरकार अपने राज्य तक ही सीमित रहती है जबकि केंद्र सरकार पूरे देश में विकास करता है तथा जरूरत अनुसार सभी राज्यों को सहायता और सामग्री प्रदान करता है और जब कोई राज्य अपने अंदर कानून व्यवस्था नहीं बना पाता तो वहां पर राष्ट्रपति शासन लगा दिया जाता है यानी कि वह केंद्र सरकार के अधीन आ जाता है
  2.  केंद्र सरकार को राज्य सरकार से कई ज्यादा शक्तियां दी गई है क्योंकि केंद्र सरकार सभी राज्यों की सरकार के ऊपर होती है लेकिन राज्य में शक्तियां सीमित  ही दी गई है जो अपने क्षेत्र तक ही सीमित होती है केंद्र सरकार कोई भी कानून बना सकती है लेकिन राज्य सरकार कुछ मामलों में ही कानून बना सकती है और वह केवल उन्हीं कानून को बना सकती है जो देश के विरुद्ध नहीं होती है या किसी की भावना को आहत ना करते हो
  3.  एक देश एक कानून के हिसाब से केंद्र सरकार जीएसटी के माध्यम से सभी राज्यों के ऊपर कर लगा सकती है या हटा सकती है लेकिन राज्य सरकार के पास ये अधिकार नहीं होता है कि वह कोई भी कर को हटाया लगाएं

 

चुनाव आयोग क्या होता है

अगर चुनाव आयोग की बात की जाए तो भारत में एक चुनाव आयोग का गठन इसलिए किया गया है क्योंकि वह चुनाव आयोग केंद्र और राज्य के चुनाव को संचालित कर सके और चुनाव आयोग किसी भी राजनीतिक पार्टी के आदी नहीं आता और एक निष्पक्ष आयोग होता है यानी कि इस पर सरकार का किसी भी प्रकार का दवाब नहीं रहता है अगर कोई पार्टी चुनाव के समय में धांधली करती है या कोई अवैध काम करती है तो चुनाव आयोग इस पर सख्त एक्शन लेता है तथा दो राजनीतिक पार्टियों के बीच चुनाव के मसले को सुलझाना भी चुनाव आयोग का काम होता है और चुनाव आयोग एक सही तरह से व्यवस्थित तरीके से चुनाव का आयोजन करता है जिससे बगैर कोई हिंसा के चुनाव किया जा सके

central and state government kya hoti hai आर्टिकल कैसा लगा 

दोस्तों हमने हमारे इस आर्टिकल central and state government kya hoti hai में आपको बताया है कि केंद्र सरकार क्या होती है राज्य सरकार क्या होती है और केंद्र और राज्य सरकार में क्या अंतर होता है और चुनाव आयोग क्या होता है और इन सरकार की क्या-क्या काम होते हैं अगर आपको हमारे द्वारा लिखा आर्टिकल अच्छा लगता है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें कमेंट करके जरूर बताएं कि आपको हमारे द्वारा लिखा आर्टिकल कैसा लगा धन्यवाद

Previous articlemahila kanoon kya hai और महिला आयोग क्या है | भारत में महिलाओं के पास क्या-क्या अधिकार है?
Next articlerajdhani mukhyamantri or rajyapal सभी राज्यों के मुख्यमंत्री और राज्यपाल सूची 2024
manoj meena
हेलो दोस्तों मेरा नाम मनोज मीना है मैं बीए फाइनल ईयर का छात्र हूं मुझे बायोग्राफी लिखना काफी पसंद है क्योंकि हिंदी में ज्यादातर जानकारी किसी के बारे में भी उपलब्ध नहीं होती इसीलिए मैं ज्यादातर जानकारी इकट्ठी कर कर पॉपुलर पर्सन के बारे में बायोग्राफी लिखता हूं आप मुझे इंस्टाग्राम और फेसबुक पर फॉलो भी कर सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here