Web Indexing kya hai | Web Indexing क्या है In Hindi

15723

Web Indexing kya hai > अगर आप एक blogger है तो आप यह तो जानते ही होंगे कि Web Indexing kya hai क्योंकि  Web Indexing से ही आपकी वेबसाइट की पोस्ट रैंक करती है और गूगल पर आपकी पोस्ट जब रैंक करती है  तो आपकी वेबसाइट पर ट्रैफ़िक  आता है जिसकी वजह से आपको वेबसाइट से इनकम होती है

अगर एक रिसर्च की माने तो गूगल के पोस्ट हर महीने लगभग 5 बिलियन पोस्ट को serp में शामिल करते हैं यानी कि इनको index करते हैं जैसा कि आपको सुनने में 5 बिलियन काफी कम लग रहा होगा अगर आप अपनी पोस्ट को इंडेक्स कराना चाहते है तो  इसमें आपको कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है जिससे आपकी website बहुत जल्दी rank हो सके इसे Web Indexing कहा जाता है और चलिए हम आर्टिकल में आप इसे विस्तार से समझते हैं

Web Indexing kya hai | Web Indexing क्या है In Hindi

दोस्तों अगर आप Web Indexing समझना है तो हम आपको बताना चाहेंगे कि Web Indexing में वेबसाइट की पोस्ट को इंटेक्स किया जाता है जिसे गूगल के बोर्ड द्वारा crowl करने के बाद इंडेंट करते हैं हमने हमारे इस आर्टिकल में आपको बताया है कि Web Indexing kya hai  होती है Web Indexing क्यों जरूरी है आप अपनी Indexing को किस प्रकार improve  कर सकते हैं इन सब के बारे में डिटेल से जानकारी दी है

Indexing kya hai

दोस्तों अब बात करते हैं कि इंडेक्सिंग क्या होती है इंडेक्सिंग वाह होती है जब गूगल के दुयारा  वेबसाइट के पेज और पोस्ट को crowl  कर लेते हैं उसके बाद उसमें  वेब पेज को अपने डाटाबेस में सेव कर लेते हैं इसी को Web Indexing  कहते हैं

और जब गूगल के द्वारा इंडेक्सिंग हो जाती है तो आपके रैंकिंग के चांस भी बढ़ जाते हैं और आपकी वेबसाइट पर धीरे-धीरे ट्रैफिक  भी बढ़ने लगता है और आपके पोस्ट और पेज सर्च इंजन में दिखने लगते हैं

दोस्तों अब आम एग्जांपल से समझते हैं जब हम बुक का चैप्टर पढ़ते हैं  तो हमें किसी चैप्टर पर जाना होता है तो हम उसके फर्स्ट में देख लेते हैं कि यह चैप्टर कौन से पेज पर है जिससे हम डायरेक्ट उसी पर चले जाते हैं इसी प्रकार गूगल का सर्च इंजन काम करता है जैसे अगर आप उसमें जाकर लिखते हैं की वेबसाइट क्या है

तो वह सर्च करेगा वेबसाइट क्या है और आपके सामने कई सारे मैच keyword  ला देगा जो रिजल्ट सबसे अच्छे होंगे जिस पोस्ट में सबसे अच्छी इंफॉर्मेशन दी जाती है वाह सर्च इंजन में सबसे ऊपर शो होती है तो अब आप समझ गए होंगे कि इंडेक्सिंग क्या होती है तो चलिए अब आपको बताते हैं कि बेव इंडेक्सिंग क्यों जरूरी है हमारी वेबसाइट या ब्लॉग के लिए

Website के लिए Indexing क्यों जरूरी है

दोस्तों किसी वेबसाइट के लिए इंपोर्टेंट पॉइंट है इंडेक्सिंग क्योंकि इंडेक्सिंग के द्वारा ही वाह वेबसाइट सर्च इंजन में शो होती है यदि आप की वेबसाइट को आप सर्च रिजल्ट में लाना चाहते हैं तो आपके लिए इंडेक्सिंग काफी जरूरी है और Indexing गूगल के boat के द्वारा की जाती है जब वह आपकी वेबसाइट को crowl करते हैं इसके बाद वह सारा डाटा ले जाकर डेटाबेस में सेव कर लेते हैं

और जिस किसी bhi keyword  पर आपने आप की पोस्ट पर आर्टिकल लिखे हैं उन सब पर आपकी पोस्ट show होने लगती है और धीरे-धीरे आपकी वेबसाइट पर traffice  बढ़ने लगता है और जैसे-जैसे आपकी वेबसाइट पुरानी होती जाती है उस पर traffice भी बढ़ता जाता है लेकिन आपको पोस्ट करने के लिए इंडेक्सिंग के साथ-साथ कांटेक्ट को भी ऑप्टिमाइजेशन करना काफी जरूरी है

Indexing को Improve कैसे करें

अगर आप अपनी वेबसाइट को काफी तेजी से इंडेक्स करना चाहते हैं तो आपको कुछ बातों का ध्यान रखना काफी जरूरी है आपकी वेबसाइट को seo  ऑप्टिमाइजेशन करना होगा जिसमें कई सारे फैक्टर शामिल हैं जैसे कि on page seo off page seo  टेक्निकल seo यह सारे आपकी वेबसाइट की इंडेक्सिंग को इंप्रूव करेंगे

1. Quality Content लिखें

अगर आप अपने वेबसाइट को फास्ट indexing कराना चाहते हैं और उस पर ट्रैफिक बढ़ाना  चाहते हैं तो आपको  इंडेक्सिंग इंप्रूव करने के लिए आपको quilty कॉन्टेंट लिखना होगा अगर आप क्वालिटी कांटेक्ट लिखते हैं तो सर्च इंजन आप के रिजल्ट को काफी ऊपर दिखायेगा जिससे की आपके हाई रैंक होने के चांस काफी ज्यादा है

क्योंकि आपने quilty  कंटेंट लिखा है और इसका इफेक्ट  सर्च इंजन और रिजल्ट दोनों पर काफी अच्छा पड़ता है क्योंकि जो यूजर को जो पढ़ना है वह आपके द्वारा प्रोवाइड कर बाया जाता है तो वह आपकी वेबसाइट पर काफी समय तक टाइम बीतता है जिससे कि आपकी वेबसाइट फास्ट इंडेक्सिंग होती है

2. Hyperlinking

दोस्तों इंटेक्स इंप्रूव करने के लिए आपकी वेबसाइट में Hyperlinking होना भी जरूरी है जिसमें की इंटरनल लिंकिंग और outbond लिंकिंग शामिल है क्योंकि इसके द्वारा वेबसाइट पर काफी तेजी से इनक्रीस होने लगता है और वेबसाइट को बैकलिंक भी मिल जाते हैं जब गूगल के bots वेबसाइट को crowl करते हैं तो बैक लिंक के द्वारा बहा आपकी वेबसाइट पर भी आ जाते हैं और बात समझ जाते हैं कि यहां पर दिया गया डाटा काफी इंपोर्टेंट है और यूजर के लिए हेल्प फुल हो सकता है इसके लिए वह आपकी वेबसाइट की इंडेक्सिंग इंप्रूव करते हैं

3. URL Structure

दोस्तों आपको पोस्ट लिखते टाइम एक बात का ध्यान रखना काफी जरूरी है कि आपको आपकी वेबसाइट का यूआरएल को short  रखना है जिससे कि सर्च इंजन को समझने में आसानी हो और वह आपकी पोस्ट को इंडेक्स कर ले और फोकस कीवर्ड को आपको युurl  में रखना चाहिए जिससे आपके रैंकिंग के चांस बढ़ जाएं क्योंकि यूआरएल आपके सर्च इंजन और विजिटर दोनों के ऊपर अच्छा और बुरा प्रभाव डालता है इसके लिए आपको url short  रखना चाहिए जिसका स्ट्रक्चर काफी अच्छा होना चाहिए

4. Content में Image और Video का प्रयोग करें 

दोस्तों आपको आपकी पोस्ट में वीडियो और इमेज का प्रयोग करना काफी जरूरी है क्योंकि वीडियो और image का प्रयोग करने से यूजर   इमेज देखकर भी आपके कांटेक्ट पर पहुंच सकता है या उसे समझने में काफी आसानी होती है कि यह किस टॉपिक पर लिखा गया है और इमेज में आप अल्ट्राटेक का इस्तेमाल जरूर करें और उसे ऑप्टिमाइज करने के बाद ही अपलोड करें जिससे कि आपकी वेबसाइट की स्पीड कम ना हो अगर आपकी वेबसाइट की स्पीड अच्छी होगी तो गूगल उसे धीरे धीरे जरूर इम्प्रूव करेगा

5. Location

दोस्तों अगर आप कोई बिजनेस करते हैं और आप किसी सिटी में रहते हैं तो और आप उस  सिटी को टारगेट करना चाहते हैं तो आपको आपका बिजनेस गूगल माय बिजनेस में जाकर सबमिट करना चाहिए अगर आप ऐसा करते हैं तो बाह लोकल एसयू कहलाता है और आपकी वेबसाइट की इंडेक्सिंग काफी ज्यादा इंप्रूव हो जाती है और उसी सिटी या वहां के आसपास के लोगों के आपके सर्च रिजल्ट काफी दिखेंगे जिससे आपकी वेबसाइट के रैंक होने के चांस काफी हो जाते हैं और यह काफी अच्छा इंडेक्सिंग को इंप्रूव करने का साधन है

निष्कर्ष: web Indexing Kya Hai in Hindi

दोस्तों हमने हमारे इस आर्टिकल में आपको बताया है कि web Indexing Kya Hai और इंडेक्सिंग किस प्रकार काम करती है और हमारी वेबसाइट के लिए इंडेक्सिंग क्यों जरूरी  है अगर आपको हमारे द्वारा लिखा आर्टिकल अच्छा लगता है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें कमेंट करके जरूर बताएं कि आपको हमारे द्वारा लिखा गया आर्टिकल कैसा लगा धन्यवाद

Previous articleGhav me Kya Business Kare | गांव में सबसे ज्यादा चलने वाला बिजनेस
Next articleweb indexing kya hai | web indexing in hindi
manoj meena
हेलो दोस्तों मेरा नाम मनोज मीना है मैं बीए फाइनल ईयर का छात्र हूं मुझे बायोग्राफी लिखना काफी पसंद है क्योंकि हिंदी में ज्यादातर जानकारी किसी के बारे में भी उपलब्ध नहीं होती इसीलिए मैं ज्यादातर जानकारी इकट्ठी कर कर पॉपुलर पर्सन के बारे में बायोग्राफी लिखता हूं आप मुझे इंस्टाग्राम और फेसबुक पर फॉलो भी कर सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here